केबल कारोबारी हत्याकांड: 75 घंटे बाद निकाला गया अनुराग का शव

0
231

फरीदाबाद:  (राधिका बहल) इंस्पैक्टर सुरेश भडाना को मिली बडी सफलता चार दिन बाद नहर से बरामद हुआ केबल ऑपरेटर अनुराग का शव. रविवार को दोपहर एनडीआरएफ की टीम ने घटनास्थल से पांच किलोमीटर दूर मिडकौल पुल के पास नहर से बरामद किया। डॉक्टरों के पैनल से पोस्टमॉर्टम करवाया गया। मामले की संवेदनशीलता के मद्देनजर भारी पुलिस बल के बीच परिजनों ने शाम करीब छह बजे शव का दाहसंस्कार किया।
धौज गांव के सटोरिए आरिफ, साबू और उसके तीन साथियों ने केबल ऑपरेटर और सट्टे का काम करने वाले अनुराग उर्फ अन्नू की बुधवार रात हत्या कर शव आगरा नहर में चंदावली पुल के पास बहा दिया था। बेटे रवि ने हत्या की अपहरण की आशंका जताते हुए बुधवार रात को ही कोतवाली में रिपोर्ट दर्ज करा दी थी। मामले की जांच में जुटी पुलिस ने आरिफ को पकड़ा तो उसने हत्या कर शव नहर में बहाने की बात कुबूल की थी। तब से पुलिस अनुराग के शव को ढूंढने में जुटी थी। शुक्रवार को एनडीआरएफ की टीम ने आधुनिक उपकरणों के साथ करीब पैंतीस किलोमीटर तक शव की खोज की थी। इधर शव नहीं मिलने पर परिजनों ने तीन बार नीलम चौक पर जाम लगाया और दो बार एक नंबर बाजार भी बंद की गई। रविवार दोपहर करीब दो बजे अनुराग का शव मांदकोल पुल के पास बरामद हुआ। पोस्टमॉर्टम कराने के बाद करीब पांच बजे शव अनुराग के घर पहुंचा। इस दौरान भारी पुलिस बल तैनात रहा।

LEAVE A REPLY