झज्जर जिले में स्कूलों के नवनिर्माण एवं मरम्मत के कार्य पर पर करीब 22 करोड रूपए की राशि खर्च की जाएगी।

0
142

झज्जर:- राज्य सरकार ने मुख्यमंत्री घोषणा के अंतर्गत इस राशि की मंजूरी दे दी है। यह जानकारी उपायुक्त सोनल गोयल ने सोमवार को अपने कार्यालय में पत्रकार वार्ता के
दौरान दी। उन्होंने बताया कि राजकीय प्राथमिक स्कूल खेड़ी जट्ट, पटौदा, बादली व सिलानी के स्कूल भवनों का नवनिर्माण किया जाएगा। इस राशि में बेरी क्षेत्र के 57 स्कूलों तथा अन्य विभिन्न स्कूलों में रिपेयर का काम होगा।
उपायुक्त ने बताया कि बेरी में बेरी बाईपास के निर्माण को सरकार ने मंजूरी दी है। उन्होंने कहा सड़के विकास की धुरी होती हैं और संपर्क सड़कें ग्रामीण विकास की अहम कड़ी है। उन्होंने बताया कि जिले में विभिन्न गांवों की संपर्क सडकों के निर्माण को भी हाल ही में सरकार से मंजूरी मिली है। इसमें प्रमुख रूप से बिरोहड से मुण्डाहेडा, सासरौली से सेहलंगा, रूडियावास से निमली, रणखण्डा से कड़ौदा, झांसवा से झाड़ली व ढलानवास से सासरौली है। इसके अलावा विभिन्न संपर्क मार्गों के रिपेयर के कार्य को भी सरकार ने स्वीकृति दी है। उपायुक्त ने एक अन्य अहम जानकारी देते हुए बताया कि भारत सरकार के कौशल विकास मंत्रालय द्वारा जिले की सभी 13 राजकीय आईटीआई में एन.सी.वी.टी. ट्रेड के कोर्सिस शुरू करने की मान्यता दी है।
अंत्योदय सरल सेवा केंद्र से आमजन को राहत:
उपायुक्त सोनल गोयल ने बताया कि बेरी व बहादुरगढ़ में अंत्योदय सरल सेवा केंद्र खोले जा चुके है व झज्जर में सरल केंद्र स्थापित किया गया है। उन्होंने बताया कि झज्जर में करीब 1.30 करोड़ रुपए लागत से सरल केंद्र का निर्माण हुआ है। एक ही छत के नीचे तमाम सुविधाएं मिलने से आमजन को राहत के साथ, पारदर्शिता और काम में सरलता आई है।
केरल तक पहुंची सांझी मदद:
उपायुक्त ने प्रेस कांफ्रेंस के दौरान बताया कि जनसहयोग से जिला प्रशासन की पहल पर शुरू हुए सांझी मदद अभियान जरूरतमंदों कर मदद के अभियान में अब केवल जिले तक ही सीमित नहीं रहा। उपायुक्त ने बताया कि केरल में बाढ़ के रूप में आई त्रास्दी में सांझी मदद के माध्यम से तीन बार बड़ी मात्रा में राहत सामग्री केरला में बाढ़ पीडि़तों के लिए भेजी गई है। उन्होंने कहा कि आमजन के साथ सरकारी विभागों ेके कर्मचारियों एवं अधिकारियों ने भी उदारता के साथ आर्थिक मदद के लिए अपने कदम बढ़ाए हैं। उन्होंने बताया कि आर्थिक राहत के लिए अभी तक 31 लाख रुपए की राशि केरल राहत के लिए विभिन्न विभागों की ओर से जमा की जा चुकी है। उन्होंने कहा झज्जर जिले का सहायता स्वरूप उल्लेखनीय सहयोग रहा है।
पूनिया व चौहान को बताया देश का हीरो:
उपायुक्त ने एशियन खेलों में देश का मान बढ़ाने वाले झज्जर जिले के दो खिलाडिय़ों को बधाई दी। उपायुक्त ने कुश्ती में स्वर्ण पदक विजेता बजरंग पूनिया व पाटौदा गांव के दुष्यंत चौहान को नौकायान में कांस्य पदक हासिल करने पर बधाई देते हुए कहा कि दोनों खिलाडिय़ों की उपलब्धि जिले के अन्य युवा खिलाडिय़ों के लिए प्ररेणा का काम करेंगी।
स्टार डिमार्टमेंट आफ दा मंथ में पांच विभागों को सम्मान:
उपायुक्त ने बेहतर कार्य करने वाले विभागों को प्रोत्साहित करने के उद्देश्य से स्टार डिपार्टमेंट आफ दा मंथ योजना जिला प्रशासन के स्तर पर शुरू की गई है। इसके अंतर्गत पांच विभागों को सम्मानित किया गया है। उन्होंने बताया कि इससे दूसरे विभागों को भी अधिक प्रभावी ढंग से कार्य करने का प्रोत्साहन मिलेगा। उन्होंने बताया कि जागृति कार्यक्रम के अंतर्गत लैगिंक असमानता जैसे मुद्दों पर जमीनी स्तर पर काम किया जा रहा है। महिलाएं स्वयं को सुरक्षित महसूस करें इसके लिए जागृति कार्यक्रम में अनेक कदम उठाएं गए है।
स्वच्छता सर्वेक्षण मूल्याकंन में भागीदारी का आह्वान:
ग्रामीण विकास मंत्रालय द्वारा ग्रामीण स्वच्छता अभियान का मूल्यांकन किया जा रहा है। ग्रामीण स्वच्छता सर्वेक्षण मूल्यांकन अभियान एक अगस्त से 31 अगस्त तक चलाया जा रहा है। उपायुक्त ने आह्वान किया कि सभी ग्रामीण अपने-अपने एरिया को स्वच्छ रखें तथा एसएसजी-18 एप अपने मोबाईल में डाऊनलोड कर जिला झज्जर के लिए वोटिंग करें ताकि झज्जर स्वच्छता में अग्रणी स्थान हासिल कर सके।

LEAVE A REPLY