ये 6 वजहें, जो कहती हैं कि बोरिंग है फिल्म ‘जब हैरी मेट सेजल’

0
18

NCRCRIMENEWS(PUSPINDER OJHA): रोमांटिक फिल्मों के बेहतरीन डायरेक्टर माने जाने वाले इम्तियाज अली की यह स्क्रिप्ट है कमजोर.पूरे यूरोप ट्रिप पर शाहरुख (हैरी, टूरिस्ट गाइड) और अनुष्का (सेजल) का सिर्फ अंगूठी ही ढूंढते रहना बोर कतर सकता है.यह हजम कर पाना आसान नहीं कि एक अकेली लड़की एक अंगूठी के लिए पूरे यूरोप का चक्कर लगाने को तैयार हो जाएगी.अब अंगूठी जिस तरह सेजल को मिलती है, वह भी बेहद बचकाना है.इम्तियाज ने फिल्म में कुछ मसाला सीन डाले हैं, लेकिन वे उतने मजेदार नहीं हैं. आखिर में फिल्म का सपाट क्लाइमैक्स दर्शकों को फिर से निराश करता है.अपने फील्ड की शाहरुख खान बनना चाहती हूं: प्रेरणा अरोरा

LEAVE A REPLY