सार्वजनिक स्थलों पर धूम्रपान करने वालों पर फरीदाबाद पुलिस ने कसा शिकंजा।

0
35

  हरियाणा में 43 लाख स्मोकर, 28 हजार की सालाना मौत।

श्रीमान पुलिस आयुक्त डा.हनीफ कुरेशी ने आज दिनांक 10.01.18 को अपने कार्यालय सै0 21सी में संबंध हैल्थ फाउंडेशन (एसएचएफ), गुडगांव व फोर्टिस फाउंडेशन के साथ तंबाकू मुक्त फरीदाबाद पर प्रेस कांफ्रेस आयोजित की। प्रेस को संबोधित करते हुए उन्होने कहा कि फरीदाबाद जिले को तंबाकू मुक्त बनाकर इसे देशभर में एक माडॅल के रुप में प्रस्तुत करेंगे। इसके लिए स्वयंसेवी संस्थाओं का सहयेाग लिया जायेगा।उन्होने कहा कि पुलिस के पास बहुत सारे काम होतें है और मुख्य काम अपराध को रोकना है, क्यों कि क्राइम को सिर्फ पुलिस ही रोक सकती है, इसलिए सामाजिक सरोकार के जो काम है उन्हे सामाजिक संस्थाअेां के द्वारा किया जाना बेहतर है। तंबाकू व अन्य धूम्रपान उत्पाादों की रोकथाम के लिए कोटपा का प्रभावी रुप से पालन होना जरुरी है। मुख्य से इसको दो तरह से पूरी तरह लागू किया जा सकता है, इसमें पहला काम अवेयरनेस और कोटपा की कड़ाई से पालना कराना शामिल है। कोटपा को लागू करने के लिए नियमित रुप से अभियान चलाया जायेगा।

3 हजार चालान बनेंगे प्रतिमाह

पुलिस कमीश्नर ने कहा कि जिले को तंबाकू मुक्त बनाने के लिए सभी पुलिस अधिकारियों के साथ वार्तालाप कर तय किया गया कि कम से कम 3 हजार चालान प्रतिमाह बनाये जाएंगे। इससे आम जनता में सकारात्मक संदेश जाएगा। इसके साथ ही तंबाकू बेचने वाले, इसे बनाने वाली कंपनियां, आमजनता, सामाजिक संस्थाअेंा का सहयेाग लिया जाएगा, इनके साथ वार्ता की जायेगी। डॉ. कुरैशी ने कहा कि आम लोगों को स्वस्थ वातावरण मिले इसके लिए सार्वजनिक स्थलों पर धूम्रपान पीने वालों के विरुद्ध और अधिक सख्ती से कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि स्पेशल ड्राइव का उद्देश्य युवा पीढ़ी को तंबाकू अन्य धूम्रपान उत्पादों से दूर रखकर कैंसर जैसी अन्य बीमारियों से बचाव है। इसके साथ ही यह सुनिििश्चत किया जाएगा कि सार्वजनिक स्थलों पर धूम्रपान करने वालों की वजह से धूम्रपान न करने वालों विशेषक बच्चों के स्वास्थ्य पर प्रतिकूल प्रभाव न पड़े।

विशेष अभियान में बने 2338 चालान

पुलिस ने दिंसबर 2017 माह में विशेष अभियान चलाकर सार्वजनिक स्थलों पर धूम्रपान करने व कोटपा एक्ट के नियमों का उल्लंघन करने के आरोप में 2338 चालान काटे है। जबकि वर्ष 2017 में कुल 3168 चालान काटे गए हैं। इस मुहिम के सकारात्मक परिणाम आने के कारण पुलिस इस अभियान को जारी रख रही है, इसमें आम जनता का भी सकारात्मक सहयेग मिल रहा है। इस दौरा मौके पर हजारों की संख्या में कोटपा एक्ट के तहत बेहतरीन कार्य करने पर सामाजिक संगठनों व आमजन ने पुलिस की प्रशंसा की है। पिछले एक साल से इस अभियान को चलाया जा रहा है।

पुलिस कमीश्नर सहित अधिकारियों का हुआ सम्मान

पुलिस के द्वारा इस प्रशंसनीय कार्य को प्रोत्साहित करने के लिए देशभर में तंबाकू मुक्त अभियान चला रही संबंध हैल्थ फाउंडेशन, फोर्टिस फाउंडेशन गुडगांव की और से ट्रस्टी संजय सेठ, प्रोगा्रम डायरेक्टर अंजली खोसा ने पुलिस कमिश्नर डॉ. हनीफ कुरैशी को केाटपा में बेहतरीन कार्य करने पर सम्मान पत्र प्रदान किया। वंही सर्वाधिक चालान काटने वाले पुलिसथाना बल्लबगढ़ सिटी, सारन व सराय ख्वाजा पुलिस थाना प्रबंधकों को सम्मानित किया।

19-7 प्रतिशत लोग करतें है धूम्रपान

तम्बाकू मुक्त हरियाणा अभियान चला रही संबंध हैल्थ फाउंडेशन के सीनीयर मैनेजर डॉ. सोमिल रस्तोगी ने कहा कि हरियाणा प्रदेश में 19-7 फीसदी लोग बीड़ी व सिगरेट का सेवन करते हैं। धूम्रपान की वजह से 80-3 फीसदी नोन-स्मोकर पर भी प्रतिकूल असर पड़ता है। उन्होंने कहा कि इस हरिणाया प्रदेश में धूम्रपान से जनित रोगों के हर साल करीब 28 हजार लोगों की मौत हो जाती है। गंभीर चिंतन का विषय ये है कि इनमें से 10 फीसदी लोग वे हैं जो धूम्रपान नहीं करते हैं, लेकिन बीड़ी-सिगरेट पीने वाले के संपर्क में रहने के कारण रोगग्रस्त होकर मौत का शिकार हो जाते हैं। फरीदाबाद के सेक्टर-31 स्थित एफएमएस स्कूल के चेयरमैन एचएस मलिक ने कहा कि तम्बाकू विक्रेता बच्चों को नशेड़ी बनाकर उनके जीवन को नष्ट करने के लिए स्कूलों के आसपास की दुकानों, रेहड़ी-ठेलों पर बड़ी मात्रा में तम्बाकू उत्पाद उपलब्ध करवा रहे हैं। उन्होंने कहा कि केवल पुलिस ही है जो इन बच्चों के जीवन को बचा सकती है, इसके लिए इस तरह की स्पेशल ड्राइव निरंतर जारी रखने की जरूरत है।

फरीदाबाद मिडटाउन के रोटरी क्लब के अध्यक्ष अनिल बहल ने कहा कि इस तरह के स्पेशल ड्राइव चलाकर ही युवा पीढ़ी को मौत के गर्त में जाने से बचाया जा सकता है। इसके लिए रोटरी क्लब स्वस्थ्य और सुंदर फरीदाबाद बनाने के लिए इस अभियान का सहयोग करेगा। इसके तहत रोटरी क्लब के सदस्य फरीदाबाद में कोटपा एक्ट के प्रति जागरूकता पैदा करेंगे, जिसके लिए शहर में नो-स्मोकिंग के पम्फलेट्स वितरित करेंगे।

हरियाणा में 43 लाख स्मोकर, 28 हजार की सालान मौत

विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) की रिपोर्ट के मुताबिक हरियाणा प्रदेश में करीब 43 लाख लोग किसी न किसी रूप में तम्बाकू का उपयोग करते हैं। इनमें से 35-5 लाख लोग धु्रमपान (बीड़ी व सिगरेट) करते हैं। तम्बाकू जनित पदार्थों के उपयोग से कैंसर सहित विभिन्न तरह की बीमारियों से ग्रसित होने के कारण प्रदेश में सालाना अनुमानित 28 हजार लोगों की मौत हो जाती है। वहीं, लगभग 116 बच्चे रोजाना तम्बाकू जनित पदार्थों का सेवन शुरु करते हैं।

दो दिन में काटे गए 2338 चालान का विवरण————————————-पुलिस थाना का नाम चालान की संख्या——————————————————वल्लबगढ़ सिटी 330सारन 243

सराय ख्वाजा 236—————————————————————————क्या है कोटपा अधिनियम

इस अधिनियम के तहत सार्वजनिक स्थान का तात्पर्य ऐसे किसी स्थान से है,जिसका सार्वजनिक उपयेाग होता है वंहा पर धूम्रपान निषेध एंव संवैधानिक चेतावनी।

अधिनियम 6 अ

समस्त तंबाकू विक्रय स्थलों पर नाबालिगों केा तंबाकू न बेचने की वैधानिक चेतावनी।

अधिनियम 6 ब

सभी शिक्षण संस्थाअेंा से 100गज की दूरी में तंबाकू उत्पादों की बिक्री निषेध।यह जुर्मानासार्वजनिक स्थल, महाविद्यालय परिसर के अंदर व चारदीवारी के सौ गज के दायरे में किसी भी प्रकार के तंबाकू उत्पादों की बिक्री या सेवन करते पाए जाने पर कोटपा कानून के तहत 200 रुपये तक का जुर्माना किया जा सकता है।

LEAVE A REPLY