स्वास्थ्य विभाग फरीदाबाद की टीम ने आगरा में गर्भस्थ शिशु की लिंगजांच का मारा छापा ,महिला डॉक्टर को रंगे हाथ पकड़ा

0
54

FARIDABAD(RADHIKA BEHL)स्वास्थ्य विभाग फरीदाबाद को आगरा के एक हॉस्पिटल में अवैध लिंगजाँच करने की गुप्त सुचना मिली ,जिस पर  स्वास्थ्य विभाग फरीदाबाद ने स्वास्थ्य विभाग आगरा के साथ मिलकर  एक टीम तैयार की और एक सहयोगी गर्भवती महिला ग्राहक को आगरा के भारत भार्गव हॉस्पिटल में ले जाकर लिंग जाँच करने वाली महिला डॉक्टर रेनू भार्गव को सौदा तय करते ही रंगे  हाथो पकड़ लिया |
फरीदाबाद स्वास्थ्य विभाग की ओर से यह छापा मारने गयी टीम के इंचार्ज डिप्टी सिविल सर्जन एवं पीएनडीटी प्रभारी  डॉक्टर संजीव भगत ने जानकारी दी है कि यह कार्यवाही एक गुप्त सूचना के आधार पर उपायुक्त समीर पाल सरो के दिशा निर्देशानुसार की गयी  है। डॉक्टर भगत ने बताया की उनके साथ इस कार्यवाही के दौरान आगरा के डिप्टी सिविल सर्जन एवं पीएनडीटी प्रभारी डॉक्टर विरेंदर ,फरीदाबाद से बतौर ड्यूटी मजिस्ट्रेट तहसीलदार मनोज कुमार तथा आगरा से बतौर ड्यूटी मजिस्ट्रेट अतरिक्त सिटी मजिस्ट्रेट – प्रथम अरुण कुमार सिंह प्रमुख रूप से उपस्थित रहे।
डॉक्टर भगत ने बताया की दोषी डॉक्टर रेनू भार्गव बिचोलिये के माध्यम से सौदा करती थी और उसने इस मामले में भी अपनी आदत के अनुसार उनकी टीम के साथ गयी गर्भवती महिला के गर्भस्थ शिशु की चौदह हजार रूपये में लिंग जाँच करने का सौदा किया तथा जल्द ही अल्ट्रासॉउन्ड करके गर्भस्थ शिशु की लिंग पहचान स्पष्ट कर दी। टीम ने तुरंत कार्यवाही करके डॉक्टर रेनू भार्गव को रँगे हाथ पकड़ लिया।
उसके साथ उसकी सहयोगी बिचौलिया व् कमीशनखोर महिला तुलसी के अलावा तुलसी के पति ओमी को भी पकड़ कर कमीशन के एक हजार रूपये उसकी जेब से बरामद किये।
एक अन्य प्रमुख बिचौलिया नईम कमीशन में मिले बाकि के 13000 रूपये लेकर फरार हो गया जिसकी पुलिस की मदद से तलाश की जा रही है।
डॉक्टर भगत ने बताया की इस सम्बन्ध में पुरे मामले की तहरीर आगरा पुलिस को दे दी  गयी है जिसके आधार पर एफआईआर दर्ज  कर पुलिस आगे जाँच कर दोषियो के खिलाफ कानूनी कार्यवाही करेंगी।

LEAVE A REPLY